Month: March 2019

स्कूटर और बचपन

बचपन की कुछ यादें आज फिर टेहलाई पापा के स्कूटर के सामने खड़े, वो सवारी फिर याद आई जब भी वो कहीं निकलते, भाग के स्कूटर पर चढ़ जाती वो घुस्सा करते भी तो, मनमानी कर घूम आती! स्कूटर की आवाज़ से उनके आने का पता चलता भाग के बाहर दरवाज़ा खोलने निकल जाती इसी …

स्कूटर और बचपन Read More »