Month: February 2019

उड़ान – एक कविता

आज एक उड़ान भरने को जी चाहता है यह पंख फैलाने को जी चाहता है चीर के आसमानों को निकलना है इस हवा को सीने से लगाने को जी चाहता है कोई रोक रहा है मुझे मगर काया नहीं उसकी कोई एक एहसास है बेआवाज़ सा कहता है ,थम जा कि अभी उड़ान का समय …

उड़ान – एक कविता Read More »

Daughter

A boy or a girl someone asked? And with a hint of excitement and Hope, I said “A girl!! I want a girl child”. I continued … In today’s world where every mother asks her daughter to be careful and not to trust anybody, I want to tell her that she can trust me. That …

Daughter Read More »